समय पर ही होंगे आम चुनाव

भारतीय जनता पार्टी का मानना है कि आगामी मई तक लोकसभा चुनाव की घोषणा हो जानी है . इसी तरह समाजवादी पार्टी के सुप्रीमों मुलायम सिंह यादव भी मान कर चल रहे हैं कि लोकसभा चुनाव की घोषणा आने वाले दिनों में कभी भी हो सकती है. हालांकि इसके विपरीत केन्द्रीय वित्त मंत्री पी.चिदम्बरम का कहना है कि लोकसभा चुनाव मई 2014 के पहले नहीं होने वाले हैं. देश के इन शीर्ष नेताओं के लोकसभा चुनाव के संदर्भ में दिये जा रहे विरोधाभासी बयानों से जनता में राष्ट्रीय राजनीति को लेकर ऊहापोह की स्थिति बनती नजर आ रही है. इसका जाने-अनजाने प्रभाव देश की आर्थिक स्थिति पर भी पड़ता नजर आ रहा है. हालांकि यह एक तथ्य है कि समस्त मानवीय गतिविधियां ग्रहों और नक्षत्रों के संचलन से प्रभावित हो कर ही क्रिया-प्रतिक्रिया करती हैं. इसे हर व्यक्ति भले न स्वीकारता हो,मगर यह किसी से छिपा नहीं है कि भारतीय राजनीति के तमाम धुरंधर ज्योतिष में न केवल अटूट विश्वास रखते हैं बल्कि राजनीतिक सफलताओं के लिए तंत्र-मंत्र एवं पूजा-पाठ तक का सहारा लेते आ रहे हैं. वैसे भी ग्रह ही व्यक्ति को अर्श से फर्श और फर्श से अर्श तक पहुंचाते हैं. ज्योतिषीय गणना के अनुसार भारत का जन्म बृष लग्न में हुआ है और इस समय इसकी सूर्य की महादशा में शनि की अंतर्दशा चल रही है, जो तीस जून दो हजार तेरह तक रहेगी. ज्योतिष की हलकी- फुलकी जानकारी रखने वाले भी यह जानते हैं कि सूर्य और शनि में तालमेल नहीं रहता है. ऐसे में जाहिर है कि इस बीच लोकसभा चुनाव की दूर-दूर तक कोई संभावना नहीं है.यह अवश्य है कि मौजूदा समय राजनैतिक संक्रमण का है, जिसमें अगले आमचुनाव को लेकर विभिन्न दलों के बीच आरोप-प्रत्यारोप बढ़ेंगे, राजनीतिक गतिविधियां तेज होंगी और नये राजनीतिक समीकरणों की दिशा में नये-नये शगूफे भी लोगों को सुनने को मिलेंगे. मगर तीस जून तेरह से छह मई 2013 तक सूर्य की महादशा में बुद्ध की अंतरदशा चलेगी. सूर्य व बुद्ध के बीच अच्छा तालमेल और समन्वय के कारण बुद्धादित्य का साधारण राजयोग भी बनता है. इससे इस बात की प्रबल संभावना बनती है कि इस बीच आमचुनाव कराने की पृष्ठभूमि बने. उधर तीन दिसम्बर 2013 से 20 दिसम्बर 13 तक मंगल की प्रत्यंतर दशा और 6 फरवरी 2014 तक राहु की प्रयंन्तर दशा रहेगी. राहु राजनीति का प्रमुख कारक ग्रह माना जाता है. इसलिए यही वह समय है,जब देश में आम चुनाव की घोषणा हो सकती है. इससे स्पष्ट है कि फरवरी 2014 से जून 2014 के बीच आमचुनाव होने की ज्यादा उम्मीद है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>